(2021) राजस्थान मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना | Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna kya hai?

मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना 2021 क्या है? कैसे उसमे आवेदन करे, योजना पात्रता, दस्तावेज, योजना लाभ, फॉर्म कैसे भरे, नवीनी करण सबकुछ जाने हिंदी में!

आज हम मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना 2021 जो राजस्थान सरकार ने हाल ही बजट घोसणा में लागु की थी और उसको 1 अप्रिल 2021से इसके रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए है। राजस्थान मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत योजना व भामाशाह स्वास्थय बिमा योजना इस में शामिल करके इसको एकीकरण रूप प्रदान करके इसका नया नाम रख दिया है “मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना” इस योजना में प्रत्येक परिवार को 5 लाख का स्वास्थ्य बीमा होगा और योजना में शामिल होने के लिए क्या-क्या पत्राताए है, आवश्यक दस्तावेज और रजिस्ट्रेशन किस प्रकार से करे यह सम्पूर्ण जानकारी हम इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना क्या है? (Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana Rajasthan)

मुख़्यमंत्री चिरंजीवी योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा सभी लाभार्थियों को एक वर्ष में 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा का लाभ दिया जाता है। जिसमे इस योजना के अंतर्गत आने वाली किसी भी अस्पताल में हम फ्री ऑफ़ चार्ज में अपना कोई भी इलाज करवा सकते है एवं इस योजना यानि की Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna के तहत पुरे साल भर में पांच लाख का इलाज निःशुक्ल करवा सकते है। फिर उसके अगले साल 5 लाख तक का फ्री इलाज करवाने का लाभ प्राप्त कर सकते है। इस योजना के अंतर्गत आने वाली किसी भी अस्पताल में होने वाले इलाज का पूरा खर्चा सरकार द्वारा भरपाई किया जाता है दर्दी को अस्पताल में किसी भी प्रकार का भुगतान करने की आवस्यकता नहीं होती। 

मुख़्यमंत्री चिरंजीवी योजना पात्रता? (Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana Eligibility)

मुख़्यमंत्री चिरंजीवी योजना के अंदर कौन-कौन लाभ प्राप्त कर सकता है? तो ऐसे सभी परिवार जो खाद्य सुरक्षा योजना यानि की NFSA में शामिल है वह सभी लाभार्थी परिवार Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna के पात्र समजे जायेंगे। इसके अलावा समाजिक आर्थिक जनगणना 2011 में शामिल है वह परिवार भी इस योजना के लाभार्थी मने जायेंगे। समस्त विभागों के संविदाकर्मी यानि की जितने भी सरकारी विभाग है उसमे  संविदाकर्मी के रूप में काम कर रहे है उन सभी को इस योजना का लाभ मिलेगा।

इसके अलावा जितने भी लघु व सीमांत किसान है उनको भी Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna का लाभ दिया जायेगा। तो इन सभी उपरोक्त दिए गए लाभार्थियों को जो इलाज मिलेगा वह बिलकुल निःशुक्ल होगा यानि की इनको पूरा का पूरा लाभ फ्री में दिया जायेगा।

इसके अतिरिक्त जो जनआधार कार्ड प्राप्त परिवार है वह भी इस योजना का लाभ ले सकते है लेकिन दोस्तों उसको अगर इस योजना का लाभ लेना है तो 850 रुपये का प्रीमियम भुगतान करना होगा तभी वह इस योजना के पात्र समझे जायेंगे। अब तक आप समझ चुके होंगे की इस योजना के लिए कौन-कौन पात्र है।

इसे भी पढ़े!

योजना के लिए दस्तावेज (Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna Documents)

  • आवेदक की पासपोर्ट साइज की फोटोग्राफ।
  • आय प्रमाण पत्र।
  • बैंक खाते का विवरण।
  • आधार कार्ड।
  • राशन कार्ड।
  • मोबाइल नंबर।
  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र।

मुख़्यमंत्री चिरंजीवी योजना का आवेदन फॉर्म कैसे भरे? (Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana Registration)

अब हम जानते है की Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna का आवेदन कैसे किया जाता है। तो इसका आवेदन फॉर्म SSO पोर्टल के माध्यम से भरा जा सकता है इसके अलावा जितने भी NFSA के परिवार है उन सभी को सिर्फ जान आधार कार्ड के नंबर अपडेट करवाना है और उसको लाभ मिल जायेगा। इसके अलावा जो भी सामाजिक आर्थिक जनगणना में शामिल परिवार है उनको सिर्फ SECC सीडिंग करनी है ईमित्र की और से ओर उनको इसका लाभ मिलना शुरू हो जायेगा। इसके अतिरिक्त जितने भी परिवार है उसे ईमित्र की ओर से आवेदन करना होगा और उसी आवेदन के आधार पर उन सभी को बेनिफिट दिया जाएगा यह प्रोसेस रहेगा आवेदन करने का। इसके अतिरिक्त अपने आवेदन कर लिया उसका लाभ मिल गया उसके बाद अगले वर्ष वापस लाभ लेने के लिए नवीनीकरण करना होगा।

अस्पताल में मरीज को  लाभ कैसे मिलेगा? (Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana Benefits)

  • मरीज को सबसे पहले योजना से जुड़े निजी या सरकारी अस्पताल, जहा वो अपना इलाज करवाना चाहते है, वह इस्नमेँ से कोई एक पहचान पत्र लेकर जाना होगा।
  • जान आधार कार्ड / भामाशाह कार्ड / जान आधार कार्ड की पंजीयन रसीद या कार्ड नंबर।
  • आधार कार्ड जो की जान आधार कार्ड से जुड़े हो।
  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना का पॉलिसी दस्तावेज।
  • अस्पताल में चिकित्सक के परामर्श एवं निर्देशानुसार भर्ती किये जाने के लिए हेल्प डेस्क पर स्वास्थ्य मार्गदर्शक उपलब्ध होंगे।
  • स्वास्थ्य मार्गदर्शक द्वारा मरीज का बायोमेट्रिक सत्यापन किया जायेगा।
  • चिकित्सक के परामर्श एवं निर्देशानुसार मरीज की बीमारी से जुड़े पैकेज के लिए स्वास्थ्य मार्गदर्शक द्वारा टीआईडी बुक किया जायेगा एवं उसके साथ ही मरीज का इलाज शुरू किया जायेगा।
  • इलाज पूरा होने के बाद अस्पताल द्वारा बीमा कंपनी को क्लैम भेजा जाता है और इसकी जानकारी लाभार्थी के रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एसएमएस से दी जाती है।
  • अस्पताल से डिस्जार्ज के समय लाभार्थी से फीडबैक फॉर्म भी भरवाया जाता है।
  • लाभार्थी सभी जुड़े सरकारी और निजी अस्पताल की जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 1800 180 6127 पर फोन करे या विभाग की वेबसाइट www.health. rajasthan.gov.in देखे।

मुख़्यमंत्री चिरंजीवी योजना का नवीनीकरण कैसे करे (Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana Update)

जिन किसी को भी बिना प्रीमियम का भुगतान किये इसका लाभ मिल रहा है उन सभी को नवीनीकरण कराने की जरुरत नहीं है उनका नवीनीकरण विभाग द्वारा अपने आप कर दिया जायेगा। यानिकि अपने आप ही उसका अगले वर्ष में नवीनीकरण हो जायेगा। लेकिन जो भी जनआधार कार्ड धरी परिवार है जो इसका प्रीमियम का भुगतान करके इस योजना का लाभ ले रहे है उनको जो प्रीमियम है वह ईमित्र के माद्यम से ऑनलाइन भुगतान करना होगा और जब आप अगले वर्ष वापस भुगतान कर लेंगे तो इस योजना के अंडर एक वर्ष के लिए वापस योग्य हो जाएंगे और एसके बाद वापस आपको अगले वर्ष भुगतान करना होगा। यानि की प्रत्येक वर्ष प्रीमियम का भुगतान करने से आप इस योजना के पात्र हो जायेंगे।

होमपेजयहाँ क्लिक करे!

इसे भी पढ़े!   

योजना में मिलने वाले लाभ (Mukhya Mantri Chiranjeevi Yojna 2021 Benefits)

  • चिन्हित सामान्य बीमारियों लिए 50 हजार रुपये एवं गंभीर बीमारियों के लिए 4 लाख 50 हजार रुपये प्रतिवर्ष बीमा कवर मिलेंगे।
  • विभिन्न बीमारियों के 1576 पैकेज शामिल किये गए है।
  • मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना से जुड़े निजी एवं सरकारी अस्पतालों में लाभार्थी परिवार निःशुक्ला उपचार सकते है।
  • मरीज के अस्पताल में भर्ती होने से पांच दिन पहले का और डिस्चार्ज के बाद पद्रह दिनों का चिकित्सा खर्च निःशुक्ल पैकेज में शामिल है।

Spread the love

Leave a Comment