Cardiology Technician Kaise Bane|कार्डियोलॉजी तकनीशियन क्या होता है?

Rate this post

अनुक्रम

2021 में कार्डियोलॉजी तकनीशियन कैसे बने? Cardiology Technician Course, Eligibility, Colleges, Fee, Job Scope और Salary कितनी मिलती है जाने पूरी जानकारी!

Cardiology Technician Kaise Bane: आज हम जानेंगे कार्डियोलॉजी टेक्नीशियन के बारेमें, अगर आप भी medical field में अपना करियर बनाना चाहते है तो यह जो कोर्स है Cardiology Technician यह आपके के लिए एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। इसमें जॉब के भी काफी अच्छे चांसिस स्कोप काफी है तो अगर आप Cardiology Technology या Cardiovascular Technology में अपना Career बनाना चाहते है तो इस पोस्ट को आखिर तक जरूर पढ़े में आपको इस पोस्ट में इस कोर्स के रिलेटेड सारे पॉइंट क्लियर करूँगा। जैसे की इस कोर्स को करने के लिए Eligibility क्या होनी चाहिए, Fees क्या रहेगी कोर्स की, Course Duration क्या है, Collage कौन से बेस्ट रहेंगे, Job, Salary और सबकुछ हम जानेंगे।

कार्डियोलॉजी तकनीशियन क्या होता है? (Cardiology Technician Kaise Bane)

Cardiology Technician जो Course होता है वह हार्ट रेलेटेड होता है “Cardiac” मतलब हार्ट। इस मेडिकल फ़ील्ड में हार्ट के रिलेटेड जो Equipment  होता है उसको जो ऑपरेट करता है उसे Cardiac Care Technician कहते है और कार्डियक केयर तकनीशियन जो कोर्स करता है उसे Cardiology Technician कहते है।

कार्डियोलॉजी तकनीशियन कोर्स? (Cardiology Technician Course)

Cardiac Care Technology जो होता है वह दो लेवल का कोर्स होता है (1) Diploma (2) B.sc level का, जो डिप्लोमा लेवल का कोर्स होता है उसे Diploma in Cardiac Care Technology (DCCT) कहते है और बीएससी लेवल कोर्स को Bachelor in Cardiac Care Technology (BCCT) कहते है।

Cardiac Care Technology Course list after 12th

  • Diploma in Cardiovascular Technician
  • Diploma in Cardiac Care Technician
  • Diploma in Cardiology Technology
  • BSc in Cardiovascular Technology
  • BSc in Cardiac Care Technology

इसे भी पढ़े!

Cardiology Technician Eligibility

Cardiac care technician course करने के लिए Eligibility criteria क्या है? तो Diploma level के course करने के लिए हमें 10th या 12th Physics, Chemistry, Biology/Maths. pass out  होना जरुरी है लेकिन BSc cardiac technology एक Under graduate course है जिसे करने के लिए हमें 12th Science होना जरुरी है।

Cardiac care Technology Courses Duration

  • Diploma – 2 Years
  • Bachelor (Bsc) – 3 Years

कार्डियोलॉजी तकनीशियन कोर्स फीस (Cardiac Care Technician Fees)

फीस की हम बात करे तो डिप्लोमा कोर्स 2 साल का होता है जिसकी फीस 10 हजार से लेकर 1 लाख प्रतिवर्ष तक हो सकती है और BSc Cardiovascular Technology Course की बात करे तो यह 3-4 साल का कोर्स होता है और इसकी फीस 10,000 से 3 लाख हो सकती है वह डिपेन्ड करता है प्राइवेट और गवर्नमेंट कॉलेज पर अगर आप किसी Government Collage कोर्स करते है तो आपकी फीस बहोत ही कम होगी और वही आप किसी Private Collage से यह Course करते है तो वह पर आपकी फीस थोड़ी ज्यादा होगी।

Diploma in Cardiology Technician Course Syllabus

External SubjectInternal Subjects
1st Year Paper-I Human biology and Introduction to CardiologyAnatomy Physiology & Biochemistry Pharmacology Introduction to Cardiovascular Diseases   2nd Year Paper-II Cardiovascular InvestigationsBasic Cardiovascular InvestigationsAdvanced Cardiovascular Investigations  Speaking English & Communication Basics of Computer Science

BSc in Cardiology Technician Course Syllabus

External SubjectInternal Subjects
1st Year Human AnatomyPhysiologyBiochemistryPathologyMicrobiology   2nd Year  Medicine relevant Cardiac CareApplied pathology Applied pharmacologyIntroduction to Cardiac technology 3rd Year Cardiac care Technology clinical cardiac care Technology AppliedCardiac care Technology AdvancedSpeaking English & Communication Basics of Computer Science

कार्डियोलॉजी तकनीशियन के काम (Cardiology Technician Work)

जो लोग कार्डियक केयर टेक्नोलॉजी कोर्स करते है उसका कार्य cardiac के रेलेटेड जो equipments है जैसे की ECG, ECO या TMT है यह सारे मशीन को चलाते है और Report निकालते है इस रिपोर्ट को जो Cardiologist होते है वह डायग्नोसिस करके बीमारी की जाँच करते है और बीमार व्यक्ति को दवाई की Prescription देते है। तो यह यह एक ज्यादा जवाबदारीपूर्ण कार्य होता है एक Cardiology Technician का की सही रिपोर्ट देना क्योकि यह जो टेस्ट होता है वह सीधे हमारे हार्ट से है हमारा हार्ट सही से ऑपरेट कर रहा है की नहीं उससे रेलेट होता है। तो कार्डियोलॉजी तकनीशियन मुख्य कार्य होता है इन सारे मशीन को ऑपरेट करना।

Career Scope in Cardiac Care Technology

कार्डियक केयर टेक्नोलॉजी कोर्स करने के बाद हम Cardiac के रिलेटेड जहां पर एकुप्मेंट होता है जैसे की हॉस्पिटल, डाइग्नोसिस सेंटर होते है वह पर Job ले सकते है या फिर Self Employee हो सकते है या फिर हम आगे Master Courses भी कर सकते है।

Cardiology Technician Jobs

  • हॉस्पिटल (Hospital)
  • हेल्थ आर्गेनाइजेशन (Health Organization)
  • नर्सिंग होम (Nursing Home)
  • एजुकेशन सेक्टर (Education Sector)

Career option in Cardiac Care Technology

कार्डिक केयर टेक्नोलॉजी से रीलेटेड कोर्स करने के बाद आप इस सेक्टर में निम्न पदों पर कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं।

  • कार्डियोवैस्कुलर टेक्नोलॉजिस्ट (Cardiovascular Technologist )
  • हृदय रोग विशेषज्ञ (Cardiologist)
  • चिकित्सा सोनोग्राफर (Medical  Sonographer)
  • डायलिसिस तकनीशियन (Dialysis Technician)
  • नेफ्रोलॉजिस्ट तकनीशियन (Nephrologists Technician)

कार्डियोलॉजी तकनीशियन की सैलरी (Cardiac Care Technician Salary)

कार्डियक तकनीशियन कोर्स करने के बाद हमें शुरुआत में Minimum Salary 20,000/- से 25,000 हजार रुपये महीने तक मिलती है डिपेंड करता है की हमें कितने साल का Experience है और हम किस Organization में होते है। जो ऑर्गेनाइज़ेशन और हॉस्पिटल जितना बड़ा होगा जिसकी जितनी कैपेसिटी होगी इनकम की उसके हिसाब से हमें सैलरी भी मिलती है।

Cardiology Technician Colleges in India

अब में आप लोगो को यहाँ पर कुछ Colleges के बारेमें बताऊगा, वैसे तो आप लोगों को जहाँ पर सही लगे आप वह से एडमिशन ले सकते पर में कुछ कॉलेज के बारे में बताना चाहुँगा।

  • Geetanjali Medical Collage and Hospital (Udaipur)
  • Rajeev Gandhi Paramedical Collage (New Delhi)
  • KLE University (Belgaum)
  • Rajeev Gandhi University of Health Science (Bangalore)
  • Sri Venkateswara University (Tirupati)
  • Sri Ramamurthy Medical College (Bareilly)
  • Rohilkhand Medical College (Bareilly)
  • Era Medical College (Lucknow)
  • M.M.M. College of Health Science (Chennai)
  • Christian Medical (Valore)
  • Kanpur Institute of Cardiology (Kanpur)
  • Indian Medical Institute of Nursing (Jalandhar)
  • Tirthankar Mahaveer University (Moradabad)
  • Delhi Paramedical and Management Institute (New Delhi)
  • Cradle Institute of Paramedical Sciences (New Delhi)
  • Shivalik Institute of Paramedical Technology (Chandigarh)
  • Maharishi Markandeshwar University (Ambala Haryana)

इसे भी पढ़े!   

में उम्मीद करता हु की आप लोगो को हमारी यह पोस्ट Cardiology Technician Kaise Bane के रेलेटेड जानकारी अच्छी लगी होगी और अगर आप भी यह कोर्स करना चाहते है तो आने वाले समय के लिए यह एक बेहतर Career Option हो सकता है। इस पोस्ट के रेलेटेड कोई भी क्वेश्चन हो तो आप हमें निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है और ऐसी ही जानकारी पाने के लिए आप हमारी साइट My Secret Guide पर विजिट करते रहे धन्यवाद्।

कार्डियक टेक्नीशियन क्या है?

Cardiac Care Technician मेडिकली ट्रेन प्रोफेसनल होते जोकि कार्डिओलॉजिस्ट डॉक्टर को हार्ट की ट्रीटमेंट में कार्डिओ वेस्कुलरडिसॉर्डर में असिस्ट करते है और मेडिकल फ़ील्ड में हार्ट के रिलेटेड जो इक्विपमेंट होते है उसे ऑपरेट करते है उसे Cardiology Technician कहते है।

मैं कार्डियक टेक्नीशियन कैसे बनूँ?

कार्डियक टेक्नीशियन बनने के लिए आप को 10th या 12th में Physics, Chemistry, Biology/Maths पास होना जरुरी है तब आप Diploma Level या Bsc Level courses कर Cardiology Technician बन सकते है।

कार्डियोलॉजी तकनीशियन में डिप्लोमा क्या है?

आप 10th या 12th पास करने के बाद आप यह Diploma Course कर सकते है इस में आप तीन तरह के कोर्सेज होते है।
Diploma in Cardiovascular Technician
Diploma in Cardiac Care Technician
Diploma in Cardiology Technology

क्या मैं 12वीं के बाद कार्डियोलॉजी तकनीशियन बन सकता हु?

हा आप 12th Physics, Chemistry या Biology से 50% मार्क्स से पास है तो आप कार्डियोलॉजी तकनीशियन बन सकते है।

Spread the love

Leave a Comment