(2021) ATM ka Full Form kya Hai? एटीएम के मुख्य कार्य और लाभ

ATM Full Form in hindi

दोस्तों आज हम बात करने जा रहे है एटीएम मशीन क्या होता है, ATM का मुख्या कार्य, एटीएम के लाभ, ATM Ka Full Form Kya Hai? और में आपको बताऊंगा एटीएम  से जुड़ी कुछ रोचक और अनसुनी बातें तो चलिए जानते है।

एटीएम क्या है? एटीएम का इतिहास (ATM Kya Hai? History of ATM)

आज की डिजिटल दुनिया में ATM मशीन सभी ने देखा और use किया होगा। लेकिन क्या आपको पता है ATM machine  की खोज कब और कैसे हुई थी अगर नहीं तो इस आर्टिकल को आखिर तक जरूर पढ़ें।

दोस्तों एटीएम का आविष्कार सौप्रथम भारत में हुआ था। ATM बनाने वाले स्कॉटलैंड के John Shepherd-Barron का जन्म 23 जून 1925 में मेघालय के शिलॉन्ग में हुआ था। उस समय उसके स्कोटेस्ट पिता उस समय उत्तरी बंगाल में चटगांव पोर्ट कमिश्नर्स के चीफ इंजीनियर थे। एटीएम बनाने का आईडिया नहाते  समय आया था।

उन्होंने सोचा अगर चॉकलेट निकालने वाली मशीन की तरह पैसे निकालने वाली मशीन हो जिससे 24 घंटे Case निकले जा सके तो कितनी सहुलियत होगी। इसके बाद उसने एटीएम मशीन का निर्माण किया।

पहली ATM machine 27 जून 1967 को लंदन के बार्कलेज बैंक (Barclays bank) में लगाई गई। पूरी दुनिया में लगभग एक मशीन है पूरी दुनिया में ३०लख एटीएम मशीन है जिनमे से ढाई लाख एटीएम मशीन भारत में है।

भारत में  पहला एटीएम मशीन सन 1987 में लगाया गया था। भारत में पहला एटीएम मशीन हांगकांग और शंघाई की बैंकिंग कॉरपोरेशन ने मुंबई में लगाया था।

ATM machine  बनाने वाले बैरन कभी अपने मशीन का पैटर्न नहीं करवाया क्योकि वह अपने टेक्नोलॉजी को Secret रखना चाहते थे अगर वह पैटर्न करवाते तो उन्हें अपने कोड सिस्टम को पैटर्न एजेंसियों से साझा करना पड़ता इसलिए उन्होंने पैटर्न ना करवाने का फैसला किया।

खास बात यह थी कि बैरन एटीएम के पिन 6 डिजिट के रखने के पक्ष में थे लेकिन उनकी पत्नी ने उनसे कहा की 6 Digits ज्यादा है और लोग उसे याद नहीं रख पाएंगे इस कारण बाद में उन्हें 4 डिजिट का ATM Pin बनाया और आज भी 4 डिजिट का एटीएम पिन चलता है।

आप बिना बैंक खाते के भी एटीएम प्रयोग कर सकते हैं लेकिन ऐसा भारत में संभव नहीं है। दरअसल युरोप के देश को रूमानिया में 84% जनसंख्या के पास बैंक खाता नहीं है लेकिन वो फिर भी एटीएम प्रयोग करते हैं।

पहला तैरने वाला एटीएम मशीन केरल के कोची में लगाया गया था। यह मशीन स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) ने ढंकार में लगाई थी इसके मालिक केरला शिपिंग एंड इनलैंड नेविगेशन कॉरपोरेशन कंपनी थी।

ATM के मुख्य कार्य (ATM Kya Hota Hai)

एटीएम मशीन से सिर्फ पैसे ही नहीं बल्कि गोल्ड ( gold ) भी निकलता है। पहली Gold plate  निकालने वाली मशीन आबू धाबी में अमीरात प्लेस होटल ( Amirat Place Hotel ) की लॉबी में लगाई गई थी। इससे 320 तरह के गोल्ड के आइटम निकाल सकते थे।

दुनिया का सबसे ऊंचा एटीएम नथाला में है यह समुंदर तल से 14300 फिट उचाई पर है। यह ATM भारत-चीन के बॉर्डर पर आर्मी के लिए लगाया गया था।

दुनिया का सबसे अकेला ATM अटलांटिका में है मतलब यहाँ एक ही एटीएम मशीन  है। ब्राजील में बैंकिंग ट्रांजैक्शन पासवर्ड को ज्यादा सुरक्षित बनाने के लिए बायोमेट्रिक एटीएम का इस्तेमाल किया जाता है इन एटीएम पर पैसा निकालने के लिए Pin की जगह फिंगरप्रिंट (Finger Print ) का प्रयोग होता है।

कई बार चोर पैसे के बजाय पूरी ATM Machine  ही उखाड़ ले जाते हैं। ऐसे में वह ज्यादा दूर नहीं जा सकते क्योंकि मशीन में जीपीएस (GPS) System  लगा होता है इससे एटीएम का पता लगाना आसान हो जाता है।

भारत में  एटीएम से किसी और दिन से ज्यादा Case शुक्रवार को निकाला जाता है एटीएम कार्ड प्रयोग करने वाले 11% लोग के लोगों के Pin 1234 है। मतलब हर दूसरे आदमी की ATM Pin 1234 है और सबसे कम प्रयोग की जाने वाली ATM Pin 8068 है।

कुछ लोग यह मानते हैं कि खतरे के समय में अगर आप एटीएम कार्ड की पिन उल्टा कर दे जैसे 1234 की जगह 4321 तो नजदीक के पुलिस स्टेशन को पता चल जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह सब झूठ है ऐसा कुछ नहीं होता है।

एटीएम का फुल फॉर्म क्या है (Full Form of ATM)

ATM Ka Full Form Hindi में होता है “स्वचालित टेलर मशीन” और इंग्लिश में ATM को “Automated Teller Machine” के नाम से जाना जाता है।

ATM Ki Full Form Hindi में –  स्वचालित टेलर मशीन और English में – Automated Teller Machin होती है।

ATM Card Full Form

A – Automated

T – Teller

M – Machine

यह 24 घंटे रुपये निकलने और जमा करने की सेवा प्रदान करता है। भारत में सभी व्यापारिक बैंक जैसे स्टेट बैंक, इलाहाबाद बैंक, आईसीआई बैंक के द्वारा यह सुविधा अपने ग्राहकों को उपलब्ध कराई जाती है। ATM में गुप्त पिन नंबर होता है जिसकी सहायता से एटीएम मशीन में pin number डालने के बाद Case निकाला जाता है।

ATM कार्ड के फायदे और नुकसान (Advantages and Disadvantages of ATM)

दोस्तों आज के समय में सभी लेनदेन कैशलेस हो गए हैं यहां तक कि बिजली का बिल, पानी का बिल, गैस बिल, ऑनलाइन खरीदारी और अन्य बहुत सारे ऐसे काम जो कैशलेस हो गए हैं लेकिन दोस्तों एक समय ऐसा भी था जब हमें किसी भी लेनदेन के लिए या खरीदारी के लिए जब पैसों की आवश्यकता होती थी तो बैंक जाना पड़ता था।

और इसमें काफी समय खराब होता था और बैंक कर्मचारियों को भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। लेकिन दोस्तों अब ऐसा नहीं है हमारे पास एक चीज मौजूद है जिसे कहते हैं “ATM” यानिकी (एटीएम – Automated Teller Machine).

एटीएम कार्ड के फायदे

  • जब भी आप बैंक खता खोलते है तो ज्यादातर बैंक एटीएम कार्ड प्रदान करते है।
  • आपको कही भी जाते वख्त कैश या चेक बुक साथ लेकर जाने की आवश्यकता नहीं रहती।
  • शॉपिंग करना, खरीदारी करना, रेस्टोरेंट में खाना खाना आसान बस अपना ATM कार्ड swipe करें और पेमेंट या बील pay करे।
  • आप आसानी से Online कुछ भी शॉपिंग कर सकते है।
  • आप आसानी से अपने खर्च और Account balance को ट्रैक कर सकते है।

एटीएम कार्ड के नुकसान

  • अपने कहते में उपलब्ध राशि ही खर्च कर सकते है। कोई एमरजेंसी फंड नहीं।
  • जब भी आप ATM कार्ड के लिए अप्लाई करते है तो एटीएम कार्ड का एक शुक्ल और फीस होती है जो आपके खाते से वसूली जाएगी।
  • ATM कार्ड के उपयोग करते समय सतर्क रहने की आवश्यकता रहती  है क्यों की डेबिट कार्ड धोखाधड़ी, क्लोनिंग और फ्रॉड जैसे वारदात दिन प्रतिदिन होते रहते है।

एटीएम कार्ड के प्रकार (ATM Card Types)

एटीएम तीन प्रकार के होते हैं मास्टर कार्ड (Master Card), विजा कार्ड (Visa Card), रुपे कार्ड (Rupay Card) जोकि बैंक द्वारा वितरित किए जाते हैं। अब मैं आपको इन तीनों कार्डो की अंतर बता देता हु।

मास्टर कार्ड (Master Card)

Master Card

सबसे पहले बात करते हैं Master Card की मास्टर कार्ड एक अमेरिकन कंपनी की सर्विस है जो दुनिया की किसी भी बैंक में ऑनलाइन खरीदारी करने में हमारी मदद करता है।

विजा कार्ड (Visa Card)

Visa Card

विजा कार्ड भी मास्टर कार्ड की तरह ही होता है इससे भी हम दुनिया के किसी भी बैंक के एटीएम से Transaction  और Online  खरीदारी कर सकते हैं।

रुपे कार्ड (Rupay Card)

Rupay Card

अब बात आती है रुपे कार्ड की यह 26 मार्च सन 2012 को हमारे ही देश में लांच हुआ था। लेकिन इसका एक माइनस पॉइंट है कि हम इसे सिर्फ अपने देश में ही लेन-देन के लिए इस्तेमाल कर सकते है।

एटीएम कार्ड इस्तेमाल करते समय इन बातों का ध्यान रखें (How to Use ATM Card)

  • ATM में उपयोग करते समय सतर्क रहे।
  • पिन दर्ज करते समय अपने हाथों से ATM कीपैड को ढक लें।
  • अपने कार्ड का विवरण कभी दुसरो से साझा न करें।
  • कभी अपने OTP को साझा न करें।
  • कभी भी 1234, 9876, 1122, 9988 जैसे पिन सेट न करें।
  • पिन ATM कार्ड पर न लिखें।
  • अपना जन्म वर्ष को पिन न बनाए एवं अपना पिन किसी को न बातये।
  • अपना पिन नियमित रूप से बदलते रहे।

All Bank Customer Care Number

Sr No.Bank NameBank Customer Care Number
1Bank of India1800 220 229
1800 103 1906
(022) – 40919191
022-66684444
2State Bank of India1800 11 2211
1800 425 3800
080-26599990​​
3Axis Bank1860-419-5555
1860-500-5555
022-6798-7700 – for loss of debit card
4ICICI Bank1860 120 7777
1800 103 8181 – wealth management or private banking
1860 120 3399 – private banking
1860 120 6699 – corporate, business or retail institutional banking customers
5HDFC Bank 022-6160 6161
6Union Bank of India1800 22 2244
1800 208 2244
7IndusInd Bank1860 500 5004
8Punjab National Bank 1800 180 2222
1800 103 2222
0120-2490000 – tolled No. for International Users
011-28044907 – landline
9Corporation Bank 1800 425 3555
1800 425 2407
10Bank of Baroda1800 258 44 55
1800 102 44 55
11Syndicate Bank 1800 3011 3333
1800 208 3333
12Kotak Mahindra Bank1860 266 2666
1860-266-0811
13Indian Overseas Bank1800 425 4445
14Central Bank of India1800-22-1911 
1800-110-001
1800-180-1111
15RBL Bank+91 22 61156300 – For Banking Queries
022 6232 7777 – For Credit Card Queries
022 – 430 20999 – For Agri-Business Queries
022 – 430 20799 – For Rural Banking Queries
16Bank of Maharashtra 1800-233-4526
1800-102-2636
17IDBI Bank 1800-209-4324
1800-200-1947
1800-22-1070
18Allahabad Bank1800220363
1800-102-2368
1800-180-5254
1800-22-6061
19Andhra Bank1800 425 1515
1800 425 2910
1800 425 4059
1800 425 7701
20Barclays Bank18002336565
022-6000 1550
+91 22 6000 7888
21Canara Bank18004250018
18004251906
22Citibank1 800 180 2484
1 860 425 7000
044-2852 2484
23Dena Bank18002336427
1800225740
1800222884
24Dhanlakshmi Bank1800 425 1747
+91 4876617000
+91 4876613000
All Bank Customer Care Number

Q.1 एटीएम को हिंदी क्या कहते है?

ATM Ka Ful Form Hindi में होता है “स्वचालित टेलर मशीन” और इंग्लिश में ATM को “Automated Teller Machine” के नाम से जाना जाता है। इसका आविष्कार John shepherd barron ने किया था।

ATM Ka Full Form Hindi में – स्वचालित टेलर मशीन
ATM Ka Full Form English में – Automated Teller Machine
A – Automated (स्वचालित)
T – Teller (टेलर)
M – Machine (मशीन)

Q.2 SST का मतलब क्या होता है?

• SST का फुल फॉर्म Social Science Studies होता है इसे आप सामाजिक विज्ञान अध्ययन (Social Science) भी कह सकते है।
• इस Subject को आप सब ने अपने स्कूल में पढ़ा ही होगा।
• इस Subject में इतिहास, भूगोल, राजनीती विज्ञानं और अर्थव्यवस्था के सम्बंधित जानकारियाँ दी जाती है।
• Social Science में आप लोगो को प्राचीन और वर्तमान समय में घटित होने वाले घटनाओं के बारेमें जानकारी दी जाती है।
• इसके साथ-साथ Sea Surface Temperature को भी SST कहा जाता है जो आपको पानी के टेम्प्रेचर के बारे में या समुद्र के बारे में जानकरी देती है।

Q.3 बीएमएस (BMS) का फुल फॉर्म क्या होता है?

BMS का फुल फॉर्म होता है Bachelor of Management Studies यह एक अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम है जिसमे आप लोगो को Management के रिलेटेड स्टडीज कराइ जाती है और साथ ही इसकी ट्रेनिंग दी जाती है।

अंतिम शब्द!

अगर आप लोगो को हमारी यह Post ATM full form से जुडी जानकारी ATM Ka Ful Form Hindi और उसके इतिहास के बारे में पहले से पता था और कुच नई जानकारी जो आप लोगो को इस पोस्ट से जानने को मिली उसके बारे में अपने विचार हमें जरुर बताए और साथ ही इसे अपने दोस्तों के साथ Share करना बिलकुल ना भूले।

Spread the love

7 thoughts on “(2021) ATM ka Full Form kya Hai? एटीएम के मुख्य कार्य और लाभ”

Leave a Comment